ये है अष्टमी-नवमी तिथि और कन्या पूजा का शुभ समय

ये है अष्टमी-नवमी तिथि और कन्या पूजा का शुभ समय
Publish Date:16 October 2018 10:21 AM

शारदीय नवरात्रि का आरम्भ 10 अक्टूबर 2018 से हो गया है। नवरात्रि के पहले दिन यानी 10 अक्टूबर को प्रतिपदा और द्वितिया दोनों तिथियां थी। जिसके कारण एक दिन में दो व्रत रखें गए। 18 अक्टूबर 2018 को शारदीय नवरात्रि समाप्त हो जाएंगे। उससे पहले नवरात्रि में अष्टमी और नवमी तिथि पर कन्याओं का मां का रुप मानकर पूजन किया जाता है। इसके साथ ही महागौरी और सिद्धिदात्री देवि की पूजा के बाद हवन किया जाता है। अष्टमी और नवमी तिथि पर पूजन अपने घर के रिति-रिवाजों के अनुसार किया जाता है।
लेकिन ऐसी मान्यता है कि देवी के मां पार्वती के स्वरूप को मानने वाले अष्टमी तिथि पर पूजन करते है। जबकि भगवती के लक्ष्मी स्वरूप में श्रद्धा रखने वाले कन्या पूजन नवमी वाले दिन करते है। कई बार लोग अष्टमी-नवमी तिथि में पूजन के लिए इन तिथियों को समझने में असमंजस में पड़ जाते है। इस रिपोर्ट में हम बता रहे है देवी के कन्या पूजन की सही तिथियां और कन्या पूजन का शुभ समय-
अष्टमी तिथि 2018 - 17 अक्टूबर 2018
अष्टमी तिथि आरम्भ - 16 अक्टूबर 2018 सुबह 10:16 से
अष्टमी तिथि समाप्त - 17 अक्टूबर 2018 दोपहर 12:49 मिनट तक
नवमी तिथि 2018 - 18 अक्टूबर 2018
नवमी तिथि आरम्भ - 17 अक्टूबर 2018 दोपहर 12:49 से
नवमी तिथि समाप्त - 18 अक्टूबर 2018 दोपहर 03:28 तक
 

संबंधित ख़बरें