महिलाओं ने भाजपा सरकार की नीतियों पर निशाना साधा

महिलाओं ने भाजपा सरकार की नीतियों पर निशाना साधा
Publish Date:21 October 2019 04:55 PM

उरई/जालौन। भारतीय महिला फेडरेशन का तीसरा जिला स्तरीय सम्मेलन भाकपा के जिला कार्यालय मजदूर भवन में हुआ। जिसमें महिलाओं ने भाजपा सरकार की नीतियों पर निशाना साधकर पार्टी की मजबूती के लिए सदस्यता अभियान चलाने की बात कही। महिला फेडरेशन की प्रदेश अध्यक्ष आशा मिश्रा ने कहा कि आज हर व्यक्ति परेशान है। अच्छे दिनों का सपना दिखाकर देश की अवाम के साथ छल किया जा रहा है। प्रदेश की बिगड़ती कानून व्यवस्था में न तो महिलाएं सुरक्षित हैं और न ही बच्चियां। आए दिन महिलाओं के साथ दुष्कर्म की वारदातें हो रही हैं। आर्थिक मंदी ने हजारों नौजवानों की रोजी छीन ली है। जरूरत की चीजें लोगों की पहुंच से दूर हो गई है।

लोगों के पास इतना पैसा नहीं है कि वे अपनी पसंद की चीज खरीद सके। महिला फेडरेशन इन्हीं सुगलते सवालों पर पूरे प्रदेश में जन आंदोलन चला रही है। प्रदेश मंत्री कांति मिश्रा ने कहा कि देश के 70 करोड़ लोगों को दो वक्त की रोटी जुटाना भी मुश्किल हो रहा है। मां-बच्चे कुपोषण के शिकार हैं। स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ लोगों को नहीं मिल पा रहा है। रोजी, रोटी, मकान, शिक्षा और स्वास्थ्य सेवाएं लोगों को समय पर उपलब्ध हों, यही फेडरेशन की मांग है। संचालन कर रही जिला मंत्री रक्षा अवस्थी ने कहा कि महिला फेडरेशन की 12 ब्रांचें है। इसमें करीब 700 सदस्य है। इस समय संगठन में पढ़ी लिखी महिलाओं को अभाव है। पढ़ी लिखी महिलाओं को जोड़ने के लिए अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने पार्टी की मजबूती के लिए चंदा एकत्रित करने और सदस्यता अभियान चलाने की बात कही।

संबंधित ख़बरें